वृश्चिक राशिफल

दैनिक हिन्दी राशिफल (वृश्चिक राशि) / Vrishchika Rashifal

Friday, October 23, 2020
आपका चढ़ा हुआ पारा आपको परेशानी में डाल सकता है। तंग आर्थिक हालात के चलते कोई अहम काम बीच में अटक सकता है। ग्लानि और पछतावे में वक़्त बर्बाद न करें, बल्कि ज़िन्दगी से सीखने की कोशिश करें। आपके प्रिय का डांवाडोल मिज़ाज आपको परेशान कर सकता है। भले ही छोटी-मोटी बाधाओं का सामना करना पड़े, लेकिन कुल मिलाकर यह दिन कई उपलब्धियाँ दे सकता है। उन सहकर्मियों का ख़ास ध्यान रखें, जो उम्मीद के मुताबिक़ चीज़ न मिलने पर जल्दी ही बुरा मान जाते हैं। यात्रा आपके लिए आनन्ददायक और बहुत फ़ायदेमंद होगी। आपके जीवनसाथी की सुस्ती आपके कई कामों पर पानी फेर सकती है।
अपना सटीक राशिफल प्रतिदिन अपने फ़ोन पर पाने के लिए अभी डाउनलोड करें - एस्ट्रोसेज कुंडली ऍप
शुभ अंक :- 8
शुभ रंग :- काला और नीला
उपाय :- रात को पाने में जौ भिगोकर रखें व अगली सुबह किसी जानवर या पक्षियों को खिलाने से हेल्थ अच्छी रहेगी।

आज का दिन

स्वास्थ्य:
धन-सम्पत्ति:
परिवार:
प्रेम आदि:
व्यवसाय:
वैवाहिक जीवन:

वृश्चिक दैनिक राशिफल आपको अपने नियमित कार्यों के बारे में जानकारी प्राप्त करने में मदद करेगा। यदि आपकी राशि वृश्चिक है या यूँ कहें कि आप वृश्चिक राशि के जातक हैं, तो आप इस दैनिक राशिफल के द्वारा अपने जीवन में आने वाली सभी घटनाओं का पूर्वानुमान लगा सकते हैं, जिससे आप आने वाली चुनौतियों को अवसरों में बदलने के लिए तैयार हो सकें। यदि हमें भविष्य में होने वाली किसी बुरी घटना के बारे में जानकारी मिल जाए, तो हम शायद खुद को पहले ही सावधान कर सकते हैं ताकि उस घटना के कारण हमें किसी तरह का नुकसान न पहुंचे। बहरहाल आपने ऊपर वृश्चिक दैनिक राशिफल तो पढ़ लिया है. अब जानते हैं वृश्चिक राशि के जातकों से जुड़े रोचक तथ्य: वृश्चिक- राशि चिन्ह

2021 वृश्चिक राशिफल यहाँ पढ़ें

वृश्चिक राशिचक्र की आठवीं राशि होती है। वृश्चिक का राशि चिन्ह “बिच्‍छू” होता है। इसका स्‍वामी ग्रह “मंगल” है और यह एक स्थिर राशि होती है। वृश्चिक राशि वाले जातकों को अपने शांत एवं विनम्र व्यवहार से जाना जाता है। यह एक जलीय राशि है और इस राशि के जातक अपने अनुभव और भावनाओं को व्यक्त करने के लिए जीते हैं। वे खुद को बाहर से बहुत शांत दिखाने का प्रयास करते हैं लेकिन भीतर से कोमल हृदय के व्यक्ति होते हैं।

वृश्चिक- शारीरिक बनावट

  • वृश्चिक राशि के जातकों के हाथ की बनावट को देखें तो इनकी हथेली चपटी होती है। जबकि इनका हाथ लंबा और कम चौड़ा होता है।
  • इनकी उंगलियां मोटी होती हैं। इस राशि के जातक का अंगूठा छोटा, दृढ़ता और हठ को दर्शाता है।
  • इनके नाक, वक्षस्थल, इंद्रिय या अंगुली पर तिल का चिन्ह होता है।
  • इस राशि की लड़कियों के नयन-नक्ष तीखे होते हैं। अधिक सुंदर न होने पर भी ये हर जगह आकर्षण का केंद्र बन जाती हैं।
  • आमतौर पर इस राशि के जातक तीखे नैन-नक्श वाले और इनकी आवाज़ में ख़राश (हस्की वॉयस) होती है।
  • इनकी आँखें मुंदी हुई होती हैं।
  • इस राशि के व्यक्ति की गर्दन छोटी, होंठ पतले और बाल भूरे रंग के होते हैं।
  • इनके गाल की हड्डियां चपटी एवं माथा वर्गाकार होता है।
  • धड़ की तुलना में इनके हाथ छोटे होते हैं।
  • शारीरिक संरचना के अनुसार ये आत्मविश्वासी दिखते हैं।

वृश्चिक- व्यक्तित्व

वृश्चिक राशि के लोग बहुत संवेदनशील होते हैं। ये लोग भीतर से कोमल और बाहर से कठोर होते हैं। इस राशि के जातक जीवन में कीर्तिमान बनाते हैं और इनको आसानी से नहीं हराया जा सकता है। वृश्चिक राशि के लोग किसी भी स्थिति में सामने वाले पर अपना प्रभाव अवश्य छोड़ते हैं। इनके शत्रुओं की तादात अधिक होती है लेकिन इनका कोई भी शत्रु इन्हें हानि नहीं पहुंचा पाता है। वृश्चिक राशि वाले ज्यों का त्यों देने में विश्वास रखते हैं।

इस राशि के जातक सिद्धांतों के लिए संघर्ष करने वाले होते हैं। इन्हें परम्पराओं से ज्यादा प्रेम या लगाव नहीं होता है। अगर इनकी प्रकृति की बात करें तो ये लोग चुनौती देने वाले एवं महत्वाकांक्षी होते हैं। इनकी रुचियां और अरुचियां चरम सीमा की होती हैं। ये उन व्यक्तियों के लिए खरे सिद्ध होते हैं जो बेईमान या लोगों का अपमान करता है। इन्हें हमेशा स्पर्श जनित रोग होने का डर रहता है।

वृश्चिक राशि वाले शक्ति के प्रशंसक होते हैं। इस राशि के जातक भयंकर प्रतियोगी होते हैं। इन्हें दूसरों के कष्ट और कठिनाइयों के लिए भी सहानुभूति होती है। ये लोग अपने प्रबल व्यक्तित्व के कारण अपने शत्रु या प्रतिद्वंद्वी को झुका देते हैं। वृश्चिक राशि के लोग निपुण, धैर्यपूर्ण, विचारों के पक्के और किसी की राय न मानने वाले होते हैं। ये लोग बिना किसी कारण के संघर्ष में पड़ जाते हैं।

इस राशि के जातक अच्छे संगठनकर्ता, प्रभावशाली नेता और पराक्रमी योद्धा होते हैं। इन्हें राजनीति के क्षेत्र में काफी सफलता मिलती है। यह अपने संकल्प को पुरा करने के लिए कोई भी कुर्बानी देने को तैयार रहते हैं।

वृश्चिक- रुचियाँ/शौक

वृश्चिक राशि के लोग अपने शौक के बारे में सजग रहते हैं। इन्हें महंगी कारें और विशेष तरह की डिज़ाइन वाले आभूषण बेहद आकर्षित करते हैं। इनकी रूचि स्वादिष्ट भोजन में रहती है। इस राशि के जातकों को रोमांस और गुनाह पर उपन्यास आदि पढ़ना पसंद होता है।

वृश्चिक- कमियां

  • वृश्चिक राशि के जातकों की सबसे बड़ी कमजोरी यह होती है कि वे अपने अन्दर के साहस का इस्तेमाल करने से और सीधा हमला करने से डरते हैं। हालाँकि अपने साहस का प्रयोग करने की बजाय ये अपने लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए व्यापक और चालाक योजनाएं बनाते हैं |
  • बुद्धिमता की कमी के कारण वृश्चिक राशि के लोग खुद अपने लिए समस्या उत्पन्न कर लेते हैं।
  • इस राशि वाले जातक अपनी उपेक्षा सहन नहीं कर पाते हैं। यदि एक बार ये किसी से क्रुद्ध हो जाए तो उसे माफ़ करना नहीं करते हैं।
  • ये लोग ऊपर से दिखने में शांत होते हैं लेकिन इनके मन में बदला लेने की भावना छिपी होती है जो कि अवसर मिलते ही ये अपने शत्रु पर निर्दयता से चोट कर देते हैं या उसे अन्य तरीकों से हानि पहुंचाने की कोशिश करते हैं।
  • इन कमियों को दूर करने के लिए हिन्दू पद्धति में वृश्चिक राशि के जातकों के लिए कुछ उपाय बताये गए हैं, जैसे- कष्ट होने पर हनुमान चालीसा और रामायण का पाठ करें तथा महामृत्युंजय मंत्र, गायत्री मंत्र और रामनाम का जाप कर सकते हैं।
  • अपने दुखों को दूर करने के लिए आप मंगलवार का उपवास करें या फिर “मूंगा” रत्न धारण करें। इसके अलावा आप अनंतमूल की जड़ को पहन सकते हैं।
  • वृश्चिक राशि के जातक अपनी कमियों को दूर करने के लिए मंगलवार को गेहूं, मसूर, गुड़, लाल वस्त्र, तांबा, लाल कनेर के फूल और लाल वस्तुओं का दान कर सकते हैं। आपके लिए हनुमानजी की उपासना भी लाभदायक रहेगी।
  • मनोकामनाओं की पूर्ति के लिए 'ॐ क्रां क्रीं, क्रौं सः भौमाय नमः' मंत्र का 10,000 बार जाप करें।

वृश्चिक- आर्थिक पक्ष

वृश्चिक राशि वाले जातक जो चाहते हैं उन्हें वो अवश्य मिलता है भले ही उसमें थोड़ी देरी हो सकती है। इनके पास धन की कमी नहीं होती है अर्थात यदि मौके पर खर्च करने की आवश्यकता पड़ जाए तो इनकी नाक बच जाती है। इस राशि के लोग उचित मार्ग द्वारा धन कमाकर अपना जीवन चलाने में विश्वास रखते हैं।

वृश्चिक- शिक्षा एवं व्यवसाय

वृश्चिक राशि वाले छात्रों को अध्ययन के क्षेत्र में चिकित्सा, ज्योतिष, विज्ञान, प्रबंधन, वाणिज्य, राजनीति शास्त्र आदि विषयों का चयन करना ठीक रहता है। अगर व्यवसाय की बात करें तो वृश्चिक राशि वाले क्रय-विक्रय, औषधि, इलेक्ट्रिक यंत्र, रसीले पदार्थ एवं तेल आदि से जुड़े व्यवसाय कर सकते हैं। इनको विदेश व्यापार, आयात-निर्यात में विशेष सफलता मिलती है।

वृश्चिक- प्रेम संबंध

  • वृश्चिक राशि के जातकों का प्रेम संबंध एक अनोखे प्रकार का होता है। इनका पंचम स्थान मीन से संबंधित है इसीलिए इस राशि के लोग अक्सर भ्रम के शिकार रहते हैं।
  • वृश्चिक राशि वाले लोग प्रेम के भूखे होते हैं। उनकी शक्ति प्रेम ही होती है। ये प्रेम के बदले प्रेम की चाह रखते हैं।
  • इस राशि के जातक दूसरों पर विश्वास नहीं करते जिसकी वजह से वह किसी भी स्थिति से निपटने का भार स्वयं ही उठाते हैं और इसकी वजह से ईर्ष्या और संदेह का वातावरण बन जाता है।
  • वृश्चिक राशि के व्यक्ति अपनी इच्छाओं को दूसरों पर थोपते हैं।
  • ये लोग स्वभाव से प्रेमी तथा भावुक होते हैं।
  • शक्ति सम्पन्न होने के बावजूद भी इन लोगों में आत्म-विश्वास की कमी होती है।
  • इस राशि के जातक प्रेम को केवल शारीरिक क्रिया नहीं मानते, बल्कि बौद्धिक समरसता भी मानते हैं।
  • ये लोग रहस्यमय व्यक्ति की ओर जल्दी आकर्षित हो जाते हैं और अपने साथी से पूरे विश्वास की अपेक्षा रखते हैं।

वृश्चिक- विवाह और दांपत्य जीवन

वृश्चिक राशि के जातक अपने जीवनसाथी से पूरी तृप्ति पाने की आशा करते हैं। ऐसा नहीं होने पर ये लोग बेचैन हो उठते हैं और वैवाहिक संबंध को तोड़ने तक सोच लेते हैं। ये अपनी पत्नी से उम्मीद रखते हैं कि वो एक प्रेमिका की तरह बर्ताव करें। इस राशि का जातक अपने साथी पर शासन करने की इच्छा रखता है। लगातार सराहना और प्रेम इनके सेक्स जीवन को खुशहाल बना सकता है।

वृश्चिक- घर-परिवार

वृश्चिक राशि के लोगों की उनके रिश्तेदारों से बिलकुल नहीं बनती है। स्वतंत्र प्रकृति होने के कारण ये दूसरों के अधीन रहना पसंद नहीं करते हैं। इस राशि के जातकों का इनके प्रिय व्यक्तियों या मित्रों में से किसी एक के साथ संबंध विच्छेद हो जाता है। ये लोग दूसरों पर विश्वास करने की वजह से जीवन में धोखा खाते हैं। इनमें आत्मविश्वास अधिक प्रबल होता है। ये लोग जिस भी संस्था या धर्म के अनुयायी होते हैं, उसमें इनकी दृढ़ श्रद्धा होती है।

वृश्चिक- इष्ट मित्र

  • मित्रता की बात करें तो वृश्चिक राशि वालों के कर्क, सिंह, मेष, धनु, मीन राशि वाले व्यक्तियों से संबंध अच्छे रहेंगे। इन राशियों के जातकों के साथ मित्रता के साथ-साथ भागीदारी भी चल सकती है।
  • यह तुला, धनु और मेष राशि वालों के साथ उदासीन रहते हैं।
  • वृष राशि के साथ इनका विरोधी आकर्षण होता है।
  • मिथुन और कन्या राशि वालों से इस राशि के लोगों की कभी नहीं बनेगी, और अक्सर झगड़े चलते रहेंगे।
  • इन लोगों की वृश्चिक राशि वालों के साथ भी नहीं पटती है।
  • अगर दो वृश्चिक राशि के व्यक्ति दायित्व संबंधी परेशानियों से बचते हुए एक दूसरे का सहयोग कर सकें, तो वह जीवन में सब कुछ प्राप्त कर सकते हैं।

वृश्चिक- स्वास्थ्य और खान-पान

वृश्चिक राशि के लोग अधिकांश तौर पर गुप्त रोगों और रक्त विकार से परेशान रहते हैं। इस राशि के लोगों को अनियमित दिनचर्या की वजह से पाचन संस्थान, आलस्य, संक्रमण रोग, उत्साह हीनता, स्मृति से जुड़ी समस्या आदि जैसे रोग हो जाते हैं। ये लोग स्वप्नदोष, हर्निया, मासिक धर्म की अनियमितता, कब्ज, गठिया, नजला, बवासीर, लिकोरिया, ट्यूमर आदि रोगों से भी परेशान हो सकते हैं। इन्हें फोड़ा-फुंसी, जलना-काटना होना आम बात है। इनको दांत से जुड़ी समस्या भी रहती है। वृश्चिक राशि की स्त्रियों को गर्भपात का भय रहता है और मासिक धर्म में तकलीफ रहती है। इस राशि के लोगों को अपने खून की शुद्धता का ध्यान हमेशा रखना चाहिए।

खान-पान की दृष्टि से वृश्चिक राशि के जातक को अधिक पानी पीने और अपने स्वास्थ्य को अच्छा रखने के लिए कोलेस्ट्रॉल और जिंक युक्त चीज़ों का सेवन करना चाहिए। इनके लिए घोंघे, अंजीर, एवोकाडो, काले चेरी, पनीर, प्याज, गाजर, सरसों, फूलगोभी, नारियल, मछली और झींगा उचित भोजन हैं | इन लोगों को शराब से दूर रहना चाहिए। इन्हे पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन लेना चाहिए जिससे इन्हें एमिनो एसिड मिल सके और जो शरीर के लिए बिल्डिंग ब्लॉक की तरह काम करते हैं।

वृश्चिक- भाग्यशाली अंक

9 अंक वृश्चिक राशि वाले जातकों के लिए भाग्यशाली होता है इसीलिए 9 अंक की श्रृंखला 9, 18, 36, 45, 63...इनके लिए शुभ होती है। इनके अलावा 1, 2, 3 अंक शुभ, 6, 8 अंक सम और 4, 5 अंक अशुभ होता है। यदि आप इन अंकों को ध्यान में रखकर कार्य करें तो यह अवश्य लाभकारी होगा।

वृश्चिक- भाग्यशाली रंग

अगर रंग की बात करें तो वृश्चिक राशि वालों के लिए लाल, मटमैला रंग भाग्यशाली होता है। इन रंगों के वस्त्र पहनने से मानसिक शांति मिलती है। वृश्चिक राशि वाले लोगों के लिए जेब में हमेशा लाल रंग का रुमाल रखना बहुत फायदेमंद होता है। लाल रंग को अपने कपड़ों में किसी न किसी रूप में अवश्य रखें।

वृश्चिक- भाग्यशाली दिन

वृश्चिक राशि का 'मंगल' ग्रह से निकट का संबंध है। इस कारण इस राशि के जातकों के लिए भाग्यशाली दिन मंगलवार होता है। इस दिन ये लोग प्रसन्न रहते हैं। इनके लिए कभी-कभी सोमवार और गुरुवार का दिन भी शुभ होता है, जबकि बुधवार अशुभ और रविवार आर्थिक सुखकारी होता है। जिस दिन मकर राशि का चंद्रमा हो उस दिन महत्वपूर्ण कार्य शुरू नहीं करना चाहिए।

वृश्चिक- भाग्यशाली रत्न

वृश्चिक राशि वाले लोगों के लिए “मूंगा” भाग्यशाली रत्न होता है। इसीलिए मंगल खराब रहने पर इसे पहनना चाहिए। आप 6 रत्ती का मूंगा सोने या तांबे में जड़वाकर मंगलवार के दिन शुभ मुहूर्त में मंगल देव का ध्यान करते हुए अनामिका अंगुली में धारण करें तो यह अधिक लाभप्रद रहता है।

ऊपर हमने वृश्चिक राशि के जातकों से जुड़ी शारीरिक बनावट, व्यक्तित्व, शौक, कमियां, खूबियां, परिवार, प्रेम संबंध जैसे हर एक पहलू को अच्छे से जाना है। आशा करते हैं कि एस्ट्रोसेज द्वारा दी गयी जानकारी आपको वृश्चिक राशि के लोगों को समझने में मददगार साबित होगी।

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

ज्योतिष पत्रिका

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।