• Varta Astrologers

आज का राशिफल (Today Horoscope In Hindi) - 3 February 2023

आज का राशिफल पढ़ने के लिए अपनी राशि चुनें (Choose your rashi to read today rashifal):

आज का राशिफल - Today Rashifal

आज का हिन्दी राशिफल (Today Horoscope In Hindi) (कर्क राशि) / Karka Rashifal Today

Friday, February 3, 2023
अपनी शारीरिक चुस्ती-फुर्ती को बनाए रखने के लिए आप आज का दिन खेलने में व्यतीत कर सकते हैं। पैसों की कमी आज घर में कलह की वजह बन सकती है, ऐसी स्थिति में अपने घर के लोगों से सोच-समझकर बात करें और उनसे सलाह लें। अपने बच्चों के लिए कुछ ख़ास योजना बनाएँ। सुनिश्चित करें कि आपकी योजनाएँ यथार्थवादी हैं और उन्हें अमली जामा पहनाना मुमकिन है। आने वाले पीढ़ी इस तोहफ़े के लिए आपको हमेशा याद रखेगी। आपके प्रिय के साथ कुछ मतभेद उभर सकते हैं- साथ ही अपने साथी को अपना नज़रिया समझाने में भी तकलीफ़ महसूस होगी। कामकाज में आ रहे बदलावों के कारण आपको लाभ मिलेगा। आज आपको महत्वपूर्ण मामलों पर ध्यान लगाने की ज़रूरत है। अगर आप अपने जीवनसाथी की छोटी-छोटी बातों को नज़रअन्दाज़ करेंगे, तो उन्हें बुरा लग सकता है।
उपाय :- स्नान करने के बाद सफेद चंदन का तिलक मस्तक पर करने से आर्थिक पक्ष अच्छा रहेगा।
हैं परेशान? करें पंडित जी से सिर्फ ₹1 में बात , पायें तुरंत समाधान.

आज का दिन

स्वास्थ्य:
धन-सम्पत्ति:
परिवार:
प्रेम आदि:
व्यवसाय:
वैवाहिक जीवन:

पढ़ें - कल का राशिफल

पढ़ें - अगले सप्ताह का राशिफल

हिन्दी में पढ़ने के लिए क्लिक करें - राशिफल 2023

विशेषतः आज का राशिफल (Today Horoscope In Hindi) आपको बताएगा कि आज के दिन आपको किन चीज़ों पर अधिक ध्यान देना चाहिए और किनसे बचने की कोशिश करनी चाहिए, क्या आज आपको उन्नति के पथ पर ले जाएगा और क्या आपके सामने बाधा खड़ी कर सकता है। आइए, देखते हैं क्या कहते हैं आपके सितारे।

राशिफल वस्तुतः पुरातन ज्योतिष शास्त्र की वह विधा है, जिसके माध्यम से विभिन्न काल-खण्डों के बारे में भविष्यवाणी की जाती है। जहाँ दैनिक राशिफल रोज़मर्रा की घटनाओं को लेकर भविष्यकथन करता है, वहीं साप्ताहिक, मासिक तथा वार्षिक राशिफल में क्रमशः हफ़्ते, महीने और साल के फलादेश किए जाते हैं। वैदिक ज्योतिष में 12 राशियों–मेष, वृषभ, मिथुन, सिंह, कर्क, कन्या, तुला, वृश्चिक, धनु, मकर, कुम्भ व मीन–के लिए ये सभी भविष्यकथन किए जाते हैं। ठीक इसी तरह 27 नक्षत्रों के लिए भी भविष्यवाणियाँ की जा सकती हैं। हर राशि के अपने-अपने स्वभाव और गुण-धर्म होते हैं, अतः प्रतिदिन ग्रहों की स्थिति के अनुसार उनसे जुड़े जातकों के जीवन में घटित होने वाली स्थितियाँ भिन्न-भिन्न होती हैं। यही कारण है कि हर राशि का राशिफल अलग-अलग होता है। एस्ट्रोसेज.कॉम पर दिए गए इस दैनिक राशिफल (Today Horoscope In Hindi) में हमने सटीक खगोलीय गणनाओं के आधार पर फलादेश लिखा है। इसी तरह साप्ताहिक राशिफल में हमने सूक्ष्मतम ज्योतिषीय गणनाओं का ध्यान रखा है। यदि बात मासिक राशिफल की करें, तो यही कसौटी उसपर भी लागू होती है। वार्षिक राशिफल में हमारे विद्वान तथा अनुभवी ज्योतिषियों ने साल भर में होने वाले सभी ग्रहीय परिवर्तनों, गोचर और अनेक अन्य ब्रह्माण्डीय गणनओं के माध्यम से वर्ष के विभिन्न पहलुओं मसलन स्वास्थ्य, वैवाहिक जीवन व प्रेम, धन-धान्य और समृद्धि, परिवार एवं व्यवसाय तथा नौकरी-पेशे जैसे सभी विषयों की पूरी विवेचना की है।

यह राशिफल नाम राशि के अनुसार है या जन्म राशि के अनुसार?

एस्ट्रोसेज के विशेषज्ञ ज्योतिषियों का मानना है कि दैनिक फलादेश (Today Horoscope In Hindi) को जन्म राशि के अनुसार देखना बेहतर है। अगर आपको जन्म राशि नहीं पता तो आप अपनी नाम राशि से भी भविष्यफल देख सकते हैं। पुराने समय में वैसे भी नाम, राशि के हिसाब से ही रखे जाते थे। कई पंडितों का मानना है कि नाम राशि, जन्म राशि के बराबर ही महत्वपूर्ण है।

यह राशिफल सूर्य राशि आधारित है य चन्द्र राशि आधारित?

एस्ट्रोसेज का फलकथन चन्द्र राशि यानी की मून साइन आधारित है। इस भविष्यकथन को सन साइन (सूर्य राशि) से पढ़ना सही नहीं होगा। भारतीय ज्योतिष में सर्वत्र चन्द्र राशि को ही महत्व दिया गया है।

मेरी राशि क्या है - कैसे जानें?

अगर आपको अपनी राशि नहीं पता या अपनी राशि जानना चाहते हैं तो आप एस्ट्रोसेज के राशि कैलकुलेटर का इस्तेमाल करके अपनी राशि जान सकते हैं। आपकी राशि जानने के लिए आपको अपने जन्म तारीख की ज़रुरत पड़ेगी। राशि कैलकुलेटर से न सिर्फ आप अपनी राशि जाना सकते हैं बल्कि अपना नक्षत्र, कुंडली, ग्रह स्थिति, व दशा आदि बहुत कुछ जान सकते हैं।

दैनिक राशिफल की गणना कैसे की गयी है?

भारतीय ज्योतिष में वर्तमान ग्रह स्तिथि को गोचर कहते हैं। आज का राशिफल गोचर आधारित होता है यानी की यह देखा जाता है कि आपकी राशि से वर्तमान ग्रह कहाँ स्थित हैं। आपकी राशि को लग्न मानकर उसमें गोचर के ग्रह रखकर जो कुंडली बनती है वह कुंडली फलादेश का मुख्य आधार है। इसके अलावा पंचांग के अवयव जैसे वार, नक्षत्र, योग और करन भी देखे जाते हैं। भविष्यफल लेखन में कुंडली के ग्रहों की स्थिति और दशा आदि का इस्तेमाल नहीं होता।

क्या यह राशिफल बिलकुल सही है?

जैसा की नाम से ही स्पष्ट है, फलादेश राशि के आधार पर लिखा गया होता है। पूरी दुनिया के अरबों लोगों के बारे में सिर्फ बारह राशियों से भविष्य-कथन करने के कारण इसे सामान्य फलकथन ही माना जाना चाहिए। सटीक भविष्यफल के लिए किसी ज्योतिषी से पूरी कुंडली का अध्ययन करवाना चाहिए।

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।
Call Nowज्योतिषी से बात करें Chat Nowज्योतिषी से चैट करें