Personalized
Horoscope
  • AstroSage Big Horoscope
  • Raj Yoga Reort
  • Kp System Astrologer

सप्तम भाव में स्थित सूर्य का फल (Sun in Seventh House)

सूर्य फल विचार

इस भाव में सूर्य की उपस्थिति शुभ नहीं मानी गई है। इस भाव में उपस्थित सूर्य आपको इतना अधिक स्वाभिमानी बना सकता है कि लोग आपको घमंडी समझ सकते हैं। ऐसे में स्वाभाव में कठोरता आना भी सम्भव है। कार्यक्षेत्र में लाभ और काम करने में अधिक आनंद तभी आएगा जब आपका कार्यालय आपके निवास स्थान से समीप ही हो।

सूर्य की इस भाव में स्थिति वैवाहिक जीवन के लिए भी ठीक नहीं मानी गई है। अत: जीवन साथी से मतभेद सम्भव है। विशेषकर विवाह के पंद्रह वर्षों तक वैवाहिक जीवन में सामंजस्य की कमी रहती है। फिर भी जीवन साथी का स्वभाव शमीला हो सकता है। उसके अंग कोमल और नाजुक हो सकते हैं। यहां स्थित सूर्य आपको आत्मरत भी बना सकता है और लोग आपको स्वार्थी समझ सकते हैं।

सूर्य की यह स्थिति किसी विशेष बात को लेकर आपको चिंचित रख सकती है। पिता की बहन अर्थात बुआ के साथ आपके सम्बंध खराब रह सकते हैं। कभी-कभी आर्थिक स्थिति और पारिवारिक संबंधों को लेकर भी परेशानी उठानी पड सकती है। सत्ता पक्ष, सरकार या सरकारी कर्मचारियों के द्वारा अपमानित होना पड सकता है या इनके कारण हानि हो सकती है।

वैदिक ज्योतिष में सूर्य ग्रह का प्रत्येक भाव में प्रभाव

Buy Your Big Horoscope

100+ pages @ Rs. 650/-

Big horoscope

AstroSage on MobileAll Mobile Apps

AstroSage TVSubscribe

Buy Gemstones

Best quality gemstones with assurance of AstroSage.com

Buy Yantras

Take advantage of Yantra with assurance of AstroSage.com

Buy Feng Shui

Bring Good Luck to your Place with Feng Shui.from AstroSage.com

Buy Rudraksh

Best quality Rudraksh with assurance of AstroSage.com

Reports